Latest News

पहला राज्य कीर्तिमान हासिल करने वाला, उत्तराखंड पुलिस ने एवरेस्ट पर फहराया तिरंगा

पुलिस का दूसरा ग्रुप भी एवरेस्ट फतह करने की कोशिश में लगा हुआ है। महानिरीक्षक एसडीआरएफ संजय गुंज्याल बेस कैंप से लगातार टीमों को दिशा-निर्देश दे रहे हैं। दूसरी ओर बीएसएफ के जवान लवराज सिंह धर्मशक्तु ने सातवीं बार माउंट एवरेस्ट फतह कर लिया है।

उत्तराखंड पुलिस एवरेस्ट फतह करने वाली देश की पहली पुलिस बन चुकी है। पुलिस टीम के छह सदस्यीय ग्रुप में से पांच सदस्यों ने रविवार सुबह आठ बजे एवरेस्ट फतह कर देश और दुनिया में उत्तराखंड पुलिस का नाम रोशन किया।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एवरेस्ट फतह करने पर पुलिस टीम व जवान को बधाई दी है।

अपर पुलिस महानिरीक्षक अपराध व कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि उत्तराखंड पुलिस महानिरीक्षक एसडीआरएफ संजय गुंज्याल के नेतृत्व में 29 मार्च को एवरेस्ट फतह के लिए दून से रवाना हुई थी। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने टीम को फ्लैगऑफ किया था। रविवार को पुलिस के छह सदस्यीय टीम के पांच सदस्यों ने सुबह आठ बजे माउंट एवरेस्ट सफलतापूर्वक फतह कर वहां उत्तराखंड पुलिस का झंडा लहराया।

टीम में मनोज जोशी, विजेंद्र कुडिय़ाल, प्रवीण, योगेश रावत और सूर्यकांत मौजूद थे। छठे सदस्य रोशन कोठारी तकनीकी कारणों से एवरेस्ट फतह नहीं कर पाए। पुलिस की दूसरी पांच सदस्यीय टीम भी एवरेस्ट के करीब पहुंच चुकी है। जिसमें नवनीत, संजय उप्रेती, रवि और वीरेंद्र शामिल हैं।

वहीं एक सदस्य सुशील ऑक्सीजन की समस्या होने के कारण वापस आ चुके हैं। रविवार रात या सोमवार सुबह वह भी एवरेस्ट फतह करने निकलेंगे।

एसडीआरएफ के पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने बताया कि उत्तराखंड पुलिस के लिए विश्व की सर्वोच्च चोटी माउंट एवरेस्ट (29028 फिट) करना गर्वपूर्ण है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड पुलिस के जवानों द्वारा माउंट एवरेस्ट शिखर के सफल आरोहण पर दल के सभी सदस्यों और उत्तराखंड पुलिस को बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह उत्तराखंड के लिए गौरव की बात है कि देश के किसी भी राज्य के प्रथम पुलिस दल के रूप में उत्तराखंड पुलिस ने एवरेस्ट पर फतह हासिल की है। रविवार को पुलिस बल के जिन सदस्यों ने एवरेस्ट शिखर तक सफलता पूर्वक आरोहण किया उनमें मनोज जोशी, बिजेंद्र कुड़ियाल, सूर्यकांत उनियाल, प्रवीन चौहान एवं योगेश रावत शामिल हैं। उत्तराखंड पुलिस का दूसरा दल एक-दो दिन में मौसम के अनुकूल होने पर एवरेस्ट शिखर पर पहुंचने का प्रयास करेगा। इस दल में टीम लीडर नवनीत सिंह भुल्लर, संजय उप्रेती, रवि एवं बिजेंद्र शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने दूसरे दल को भी एवरेस्ट फतह करने के लिए अग्रिम शुभकामनाएं दी हैं।

पुलिस का दूसरा ग्रुप भी एवरेस्ट फतह करने की कोशिश में लगा हुआ है। महानिरीक्षक एसडीआरएफ संजय गुंज्याल बेस कैंप से लगातार टीमों को दिशा-निर्देश दे रहे हैं। दूसरी ओर बीएसएफ के जवान लवराज सिंह धर्मशक्तु ने सातवीं बार माउंट एवरेस्ट फतह कर लिया है। उत्तराखंड पुलिस एवरेस्ट फतह करने वाली देश की पहली पुलिस बन चुकी है। पुलिस टीम के छह सदस्यीय ग्रुप में से पांच सदस्यों ने रविवार सुबह आठ बजे एवरेस्ट फतह कर देश और दुनिया में उत्तराखंड पुलिस का नाम रोशन किया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एवरेस्ट फतह करने पर पुलिस टीम व जवान को…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

uttarakhand live

बेरोजगार युवाओं के पास सरकारी नौकरी का मौका

बेरोजगार युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का मौका है। बस ये शर्तें पूरी करनी ...